चंदामामा की कहानियां | Chandamama Ki Kahaniyan | Hindi Kahaniya

Chandamama Ki Kahaniyan | Hindi Kahaniya
चंदामामा की कहानियां

 

चंदामामा की कहानियां | Chandamama Ki Kahaniyan | Hindi Kahaniya

 

बहुत समय पहले की बात है एक रात को तारे चंदामामा के पास गए और बोले, "क्या आप बता सकते हैं कि आप और हम में से कौन अधिक चमकता है ?

 

चंदामामा ने घमंड में कहा, "जाहिर सी बात है मैं ही ज्यादा चमकता हूँ"

 

सितारे मुस्कुराने लगे और बोले, “अरे नहीं ! तुम नहीं, हम ज्यादा चमकते है "।

 

चंदामामा ने कहा, "नहीं, मैं ज्यादा चमकता हूं"।

 

सितारों ने कहा, "ठीक है, चलो किसी से पूछ लेते है उन्हें एक घर की खिड़की पर कुछ बच्चे दिखाई दिए, उन्होंने तय किया की उन बच्चों से पूछ लेते हैं।

 

चंदामामा की कहानियां | Chandamama Ki Kahaniyan

 

चंदामामा और तारे खिड़की के पास गए और बच्चों से कहा कि हमें बताओ कि हम दोनों में से कौन ज्यादा चमकता है।

 

बच्चों ने कहा, "चंदामामा ज्यादा चमकते है"।

 

तभी अचानक एक बड़ा बादल चंदामामा के सामने आ गया और चंदामामा की चमक कम हो गयी तो बच्चों ने कहा तारे ज्यादा चमकते है ।

 

कुछ ही देर में जब बादल गायब हो गए तो उन्होंने फिर से कहा "चंदामामा ज्यादा चमकता है"।

 

चंदामामा की कहानियां | Chandamama Ki Kahaniyan

 

तब चंदामामा और तारे ने कहा, चलो किसी और के पास चलते हैं ये बच्चे तो कभी कुछ कह रहे है और कभी कुछ ।

 

चंदामामा और तारे एक दुसरे घर की खिड़की पर गए और एक बूढ़े व्यक्ति को देखा। उन्होंने उसे यह बताने के लिए कहा कि उन दोनों में से कौन अधिक चमकीला है।

 

बूढ़े ने कहा, "मेरे लिए यह बताना बहुत मुश्किल है क्योंकि मैं बहुत बूढ़ा हूं इसलिए मैं कुछ भी साफ़ और अच्छे से नहीं देख सकता। तो, कृपया मुझे खेद है कि मैं आपकी मदद नहीं कर सकता"।

 

फिर चंदामामा और तारे एक दुसरे घर की खिड़की पर गए, जहाँ उन्होंने देखा कि एक माँ अपने बच्चे को सुलाने के लिए गाना गा रही है। चंदामामा और सितारों ने उस औरत से कहा कि बताओ हमारे बीच कौन अधिक चमकीला है। उस औरत ने जवाब दिया कि, मेरे बच्चे का चेहरा तुम दोनों से ज्यादा चमकीला है। यह सुनकर चंदामामा और तारे निराश होकर पृथ्वी से पूछने के लिए गये

 

फिर चंदामामा और तारे पृथ्वी के पास पहुंचे। चंदामामा बहुत प्रसन्न हुआ, उसे लगा कि धरती माता उस पर कृपा करेगी।

 

चंदामामा की कहानियां | Chandamama Ki Kahaniyan

 

चंदामामा और तारे के पूछने पर पृथ्वी ने उत्तर दिया, "यह सच है कि चंदामामा रात में चमकता है और इसकी रोशनी फलों, सब्जियों और हरे पौधों के लिए बहुत उपयोगी है। लेकिन मेरे बेटे चंद्रमा ! अभिमान और घमंड मत करो।

 

बेटा याद रखो, यह प्रकाश आपका स्वय का नहीं है, आप इसे सूर्य से प्राप्त कर रहे हैं। तो उस चमक पर गर्व मत करो जो तुम्हारी नहीं है

 

पृथ्वी ने तारों से कहा, "चमकते हुए छोटे सितारे वास्तव में इतने छोटे नहीं हैं। वे सूर्य के मित्र हैं क्योंकि सूर्य स्वयं भी एक तारा है। अज्ञानी मत बनो, अगर कुछ तारे एक साथ आते हैं तो उनकी गर्मी और रोशनी हमारे लिए असहनीय होगी। तारों का टिमटिमाना भी रात को सुंदरता प्रदान करता है। इसलिए आपस में मत लड़ो।"

 

चंदामामा और तारे अब सब कुछ समझ चुके थे और उन्होंने संतुष्ट महसूस किया और पृथ्वी को धन्यवाद दिया।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ