जादुई चक्की का कमाल | jadui chakki Ka Kamal | Hindi Kahaniya

 

जादुई चक्की का कमाल | jadui chakki Ka Kamal | Hindi Kahaniya
jadui chakki Ka Kamal | Hindi Kahaniya

जादुई चक्की का कमाल | jadui chakki Ka Kamal | Hindi Kahaniya

 

एक बार एक गाँव था, उस गाँव में एक गरीब लड़का रहता था, उस गरीब लड़के के माता पिता उसके बचपन में ही गुजर गये थे, उस लड़के ने अपनी माता के मरने से पहले अपनी माता से कहा की, पिता जी पहले ही हमे छोड़कर जा चुके है और अब आप भी मुझे अकेला छोड़कर जा रही हो आपके मरने के बाद मेरा क्या होगा, मुझे कौन खाना खिलायेगा, कौन मेरा ध्यान रखेगा ।

 

तब उसकी माता ने कहा बेटा इस दुनिया में जिसका कोई नहीं होता उसका ध्यान भगवान रखते है तू तो बस भगवान को याद किया कर भगवान तेरी मदद करेंगे यह कहते हुए उस लड़के की माता के भी प्राण निकल गये थे।

 

अपनी माता के मरने के बाद वह लड़का दिन रात भगवान को याद करता और उनसे मदद मांगता, ऐसे ही दो दिन निकल गये लड़का भूख से बेहोश हो गया उसके कुछ देर बाद वंहा एक बूढी औरत आई और उस लड़के को हिलाया और उसके मुंह पर पानी डालकर उसे होश में लेकर आई ।

 

जादुई चक्की का कमाल | jadui chakki Ka Kamal | Hindi Kahaniya

 

लड़के ने आँखे खोली और देखा की उसके पास एक बूढी औरत बेठी है बूढी औरत ने अपने थेले में से खूब सारा स्वादिष्ट भोजन निकाला और उस लड़के को दिया ।

 

लड़का दो दिन से भूखा था उसने पेट भर खाना खाया उसके बाद उसने उस बूढी औरत से पूछा की आप कौन है तब उस बूढी औरत ने कहा की तुम भगवान को बहुत याद करते हो इस लिए मुझे भगवान ने तुम्हारी मदद करने के लिए भेजा है ।

 

फिर उस लड़के ने उस बूढी औरत से पूछा की क्या तुम हमेशा मेरे साथ ही रहोगी तब उस बूढी औरत ने कहा की नहीं बेटा में हमेशा तुम्हारे साथ नहीं रहूंगी ।

 

तब उस लड़के ने कहा की फिर मुझे रोज रोज खाना कौन लाकर देगा तब उस बूढी औरत ने कहा बेटा में तुम्हारे लिए एक जादुई चक्की लेकर आई हूँ ।

 

इस जादुई चक्की से तुम जो भी मांगोगे वो सब कुछ यह जादुई चक्की तुम को दे देगी तुम इस जादुई चक्की का प्रयोग करना सीख लो तुम एक बार इस जादुई चक्की से कुछ मांगो इस पर उस लड़के ने जादुई चक्की से पानी माँगा लड़के के पानी मांगते ही जादुई चक्की से पानी निकलने लगा यह देख कर लड़का बहुत खुश हुआ ।

 

जादुई चक्की का कमाल | jadui chakki Ka Kamal | Hindi Kahaniya

 

लेकिन जादुई चक्की से पानी निकलता ही जा रहा था तब उस बूढी औरत ने कहा की अब जब तक तुम इस जादुई चक्की से पानी बंद करने का नहीं कहोगे तब तक इस जादुई चक्की से पानी निकलता रहेगा इस पर लड़के ने जादुई चक्की से पानी बंद करने के लिए कहा और पानी बंद हो गया यह देख कर लड़का बहुत खुश हुआ उसके बाद वो बूढी औरत वंहा से चली गयी।

 

लड़का जादुई चक्की को अपनी झोपडी में लेकर चला गया और जादुई चक्की से अपनी जरुरत के अनुसार खाना कपडे आदि मांग लेता था और दिन भर भगवान को याद करता था ।

 

ऐसे ही धीरे धीरे समय बीतता गया लड़का अब थोडा बड़ा हो गया था उसने यह निश्चय किया की अब से वह इस जादुई चक्की की मदद से गरीब लोगो की भी मदद करेगा और उसने गरीबो को खाना बाँटना शुरू कर दिया सब गरीब लोग उस लड़के को खूब आशीर्वाद देते थे ।

 

उसी गाँव में एक लालची व्यक्ति रहता था उसने सोचा की इस लड़के के पास कोई काम नहीं है फिर भी यह गरीबो में खाना बांटता है जरुर इसके हाथ कोई खजाना लगा है इस पर उस लालची व्यक्ति ने छुप कर उसकी जादुई चक्की का राज पता किया ।

 

जादुई चक्की का कमाल | jadui chakki Ka Kamal | Hindi Kahaniya

 

अब उस लालची व्यक्ति के मन में लालच आ चूका था क्योंकि उसने उस चक्की का जादू देख लिया था इसलिए उसने उस चक्की को चुराने का विचार बनाया और मौका पाकर उस चक्की को चुराने में सफल हो गया ।

 

लालची व्यक्ति उस चक्की को अपने घर ले गया और उसने सोचा की सबसे पहले इस जादुई चक्की से खूब सारा सोना निकाल लेता हूँ लेकिन कोई देख ना ले इस लिए उसने अपने कमरे का दरवाजा बंद कर लिया और अन्दर से ताला लगा दिया उसके बाद उसने उस चक्की से कहा की मुझे खूब सारा सोना दे, इतने में चक्की से सोना निकलना शुरू हो गया यह देखकर लालची व्यक्ति बहुत खुश हुआ ।

 

लेकिन चक्की से सोना निकलता ही जा रहा था उसका पूरा कमरा सोने से भर गया अब उस लालची व्यक्ति के कमरे में रहने की जगह नहीं रही उसने कमरे से बाहर निकलने के लिए कमरे का ताला खोलने की कोशिश की लेकिन तब तक वह लालची व्यक्ति सोने में दब गया और मर गया ।

 

नेतिक शिक्षा :- लालच बुरी बला है

 

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ